Breaking News

SDM गिरफ्तार: प्राइवेट कंपनी से 5 लाख रुपये की मांगी थी रिश्वत… एन्टी करप्शन ब्यूरो ने की बड़ी कार्यवाही

SDM गिरफ्तार: प्राइवेट कंपनी से 5 लाख रुपये की मांगी थी रिश्वत… एन्टी करप्शन ब्यूरो ने की बड़ी कार्यवाही

राष्ट्रीय जगत विजन 13 जनवरी 2021

दौसा : राजस्थान प्रशासनिक सेवा (आरएएस) के दो अफसरों को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरों की जयपुर ग्रामीण टीम ने बुधवार को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। एक सड़क निर्माण कार्य को लेकर दोनों ने प्राइवेट कंपनी से 5-5 लाख रुपये की रिश्वत मांगी थी। इनमें से एक बांदीकुई एसडीएम पिंकी मीना है तो दूसरे दौसा एसडीएम पुष्कर मित्तल हैं। दोनों ने सड़क निर्माण कंपनी से रिश्वत मांगी थी और ऐसा नहीं करने पर सड़क का काम नहीं चलाने का दबाव बनाया था।

एसीबी सूत्राें के अनुसार दौसा में एक सड़क निर्माण को लेकर निर्माण कंपनी ने दोनों एसडीएम के खिलाफ एसीबी से शिकायत की थी। यह रिश्वत एक ही सड़क के लिये मांगी गई थी और रिश्वत की रकम भी 5-5 लाख रुपये बराबर थी। शिकायत के सत्यापन के बाद ब्यूरो ने जाल बिछाते हुये दोनों एसडीएम को रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। राजस्थान में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो पिछले कई दिनों से रिश्वतखोरी के तालाब की बड़ी मछलियों को अपने शिकंजे में फांस रही है। सरकारी महकमों में भ्रष्टाचारी अफसरों पर कार्रवाई के मामलों की बात करें तो साल 2020 में एसीबी ने 253 अफसरों पर कार्रवाई की है। सरकारी यूनिवर्सिटी के कुलपति हो या बारां कलेक्टर के पद पर तैनात आईएएस अफसर, एसीबी ने सबको अरेस्ट किया। एसीबी ने राजपत्रित अधिकारियों के खिलाफ 64 और अराजपत्रित अधिकारियों के खिलाफ 186 केस दर्ज किए।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *