लो करलो बात? ‘हम पूरी ताकत से लड़ेंगे’, अपने उप सचिव सौम्या चौरसिया की गिरफ्तारी पर बोले छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

लो करलो बात? ‘हम पूरी ताकत से लड़ेंगे’, अपने उप सचिव सौम्या चौरसिया की गिरफ्तारी पर बोले छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

रायपुर :-छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने उप सचिव सौम्या चौरसिया की गिरफ्तारी को ‘राजनीतिक कार्यवाही’ करार दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम इसके खिलाफ पूरी ताकत से लड़ेंगे। बता दें कि सौम्या चौरसिया को शुक्रवार को ईडी ने कथित कोयला घोटाले में मनी लॉन्ड्रिंग की जांच के संबंध में गिरफ्तार किया। बाद में कोर्ट ने चार दिनों की ईडी की रिमांड में भेज दिया. ईडी ने 14 दिनों की रिमांड की मांग की थी।

ुख्यमंत्री भूपेश बघेल का ट्वीट

मुख्यमंत्री ने ट्वीट करते हुए कहा, “जैसा कि मैं कहता आ रहा हूं, ईडी द्वारा मेरी उप सचिव सौम्या चौरसिया की गिरफ्तारी एक राजनीतिक कार्यवाही है। हम इसके ख़िलाफ़ पूरी ताक़त से लड़ेंगे।” मुख्यमंत्री बघेल ने पिछले हफ्ते पत्रकारों से बातचीत में ईडी पर अपना हमला तेज करते हुए जांच एजेंसी पर अपनी हद पार करने और राज्य में लोगों के साथ अमानवीय व्यवहार करने का आरोप लगाया था और ट्वीट भी किए थे। जिसमें मुर्गा बनाए जाने और मारपीट करने का जिक्र किए थे।

6 दिसंबर को सौम्या चौरसिया को कोर्ट में पेश किया जाएगा

सौम्या चौरसिया को अब 6 दिसंबर को ईडी के विशेष न्यायालय में पुनः पेश किया जाएगा। ईडी ने अक्टूबर में भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) अधिकारी समीर विश्नोई और दो अन्य लोगों को इस मामले में कई बार छापे की कार्यवाही के बाद गिरफ्तार किया था। सौम्या को पूछताछ के बाद धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) की आपराधिक धाराओं के तहत गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तारी के बाद अधिकारी को मेडिकल जांच के लिए ले मेकाहारा ले जाया गया जहां मेडिकल चेकअप के बाद इडी के विशेष न्यायाधीश के न्यायालय में पेश किया गया।

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में ईडी की कार्यवाही पिछले 11 अक्टूबर से ही जारी है। कोयला ट्रांसपोर्ट परमिट में गड़बडी और अवैध लेवी गब्बर सिंह टैक्स वसूली को लेकर केंद्रीय जांच एजेंसी लगातार छापेमारी कर रही है। निलंबित आईएएस समीर बिश्नोई, सूर्यकांत तिवारी के चाचा लक्ष्मीकांत तिवारी और सुनील अग्रवाल पहले से ईडी की गिरफ्त मे है । इसी मामले में फरार चल रहे कारोबारी सूर्यकांत तिवारी ने 29 अक्टूबर को स्वयं न्यायालय में आत्मसर्मपण किया था। उसके बाद से जेल में बंद हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.