गुरु. नवम्बर 14th, 2019

मंत्री नहीं बन पाए अमितेष शुक्ल ने अब ठोका मुख्यमंत्री पद पर दावेदारी, कहा- 58 हजार से जीता हूं, मेरे पिताजी दादाजी रहे हैं तो मैं भी सीएम बनने का क्यो नही सोच सकता हूं

1 min read

मंत्री नहीं बन पाए अमितेष शुक्ल ने अब ठोका मुख्यमंत्री पद पर दावेदारी, कहा- 58 हजार से जीता हूं, मेरे पिताजी दादाजी रहे हैं तो मैं भी सीएम बनने का क्यो नही सोच सकता हूं

(राष्ट्रीय जगत विजन) , रायपुर: मंत्री नहीं बन पाने को लेकर नाराज चल रहे कांग्रेस विधायक अमितेष शुक्ल ने अब मुख्यमंत्री पद पर अपना दावा ठोक कर राजनीतिक गलियारे में हलचल मचा दी है. अमितेष शुक्ल ने कहा कि मैं मुख्यमंत्री के बारे में सोच सकता हूं. मेरे पिताजी, दादाजी मुख्यमंत्री रहे हैं.

उन्होंने कहा हर व्यक्ति मंत्री बनने में इंटरेस्टेड होता है. मैं 58000 से जीता हूं, नेता प्रतिपक्ष ने मेरी तारीफ की है. बीकॉम, एमए पॉलिटिकल साइंस हूं. 20 साल से राजनीति कर रहा हूं कोई दाग नहीं है. उस हिसाब से मंत्री बनना चाहिए, हर इंसान मंत्री बनना चाहता है. मेरे पिताजी दादाजी मुख्यमंत्री रहे हैं तो मैं मुख्यमंत्री के बारे में क्यो नही सोच सकता हूं. लेकिन जैसा हमारा हाईकमान कहेगा उसी हिसाब से किया जाएगा.

आपको बता दें सरकार बनने पर मंत्री पद नहीं मिलने से अमितेष शुक्ल ने अपनी नाराजगी जताई थी. उन्होंने सरकार के शपथ ग्रहण का बहिष्कार किया था और कहा था कि मेरे साथ अन्याय हुआ है.जिसके पिता खुले आम सर्वणों का विरोध किया हो सर्वर्णों को सबक सिखाने,हराने की बात करें सवर्णो के खिलाफ मे प्रचार करे पार्टी के अंदर अंतर्कलह पैदा कर जाति वाद का बीज बोया हो, सवर्णो के साथ साथ मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम को गाली बका हो, जब वह कांग्रेस का सच्चा सिपाही हो सकता है मुख्यमंत्री बन सकता है तो मैं और मेरे दादा जी पिता जी के ऊपर तो एक दाग भी नहीं लगा है हम कांग्रेस के वफादार सच्चे सिपाही तो है ही उस नाते मैं भी मुख्यमंत्री बन सकता हूं बाकी हाईकमान का आदेश निर्देश ।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.