शनि. फरवरी 29th, 2020

बैकुंठ सी झिलमिलाती रही श्रीकृष्ण की धरा, देर रात उमड़ती रही श्रद्धा

1 min read

बैकुंठ सी झिलमिलाती रही श्रीकृष्ण की धरा, देर रात उमड़ती रही श्रद्धा

बांकेबिहारी मंदिर, नंदगांव, प्राचीन केशवदेव मंदिर में श्रीकृष्ण जन्मोत्सव मनाया गया।

मथुरा: देशभर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम है। भगवान श्रीकृष्ण के मंदिरों को सजाया गया है और मटकी फोड़ आयोजन किए गए हैं। इस बीच, शुक्रवार को मथुरा में अजन्मे की जन्मलीला का साक्षी बनने को जनसैलाब उमड़ा। योग योगेश्वर की धरा पर जन्मोत्सव का साक्षी बनने को आस्था का समंदर उमड़ रहा है। हर कदम श्रीकृष्ण जन्मस्थान की ओर उमड़ रहा है।

वृंदावन स्थित बांकेबिहारी मंदिर और नंदगांव स्थित नंदभवन में शुक्रवार को जन्मोत्सव मनाया गया। जन्मस्थान, द्वारिकाधीश मंदिर आदि में शनिवार को प्राकटयोत्सव मनाया जाएगा।

अपने आराध्य के जन्मोत्सव में शामिल होने के लिए शुक्रवार सुबह से ही श्रद्धालुओं का आवागमन शुरू हो चुका था। रात होने तक यह सैलाब में बदल गया। जन्मभूमि जाने वाले सभी मार्ग ‘नंद के आनंद भयै, हाथी घोड़ा पालकी’ के जयघोष से गूंज रहे थे।

वृंदावन स्थित बांकेबिहारी मंदिर में शुक्रवार को जन्मोत्सव मनाया गया। रात नौ बजे पट बंद होने के बाद रात पौने बारह बजे ठाकुर जी का अभिषेक किया जाएगा, बारह बजे प्रभु के दर्शन शुरू हो जाएंगे। एक बजकर 55 बजे मंगला आरती होगी। ये आरती वर्ष में एक बार ही होती है। नंदगांव स्थित नंदभवन में भी शुक्रवार को जन्मोत्सव मनाया गया।

जन्मोत्सव में शामिल होने आए भक्त भी खुद को धन्य समझ रहे हैं। मन में बस प्रभु के जन्मोत्सव में शामिल होने की लालसा है। ब्रज की रज भी श्रद्धालुओं के लिए प्रसाद समान है, यही वजह है कि सभी होटल, आश्रम और धर्मशालाओं के फुल होने के बाद जिसको जहां जगह मिली, उसने वहीं डेरा डाल लिया। सड़कों के किनारे दूर-दराज से आए श्रद्धालु चूल्हा जलाकर रोटियां बना रहे हैं। रोटी की महक और कान्हा जन्म के मंगल गीतों के बीच रात सुगंधित और संगीतमय हो चली है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज मथुरा आएंगे : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को मथुरा आ रहे हैं। मुख्यमंत्री दोपहर दो बजे वृंदावन पहुंचेंगे। यहां टूरिस्ट फेसिलिटेशन सेंटर का शुभारंभ करने के बाद संत विजय कौशल महाराज के आश्रम जाएंगे। इसके बाद श्रीकृष्ण जन्मभूमि स्थित भागवत भवन में पूजा-अर्चना करेंगे। फिर रामलीला मैदान पर जन्मोत्सव आयोजन में भाग लेने के साथ ही विभिन्न योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास भी करेंगे।

जन्मस्थान पर आज होंगे यह कार्यक्रम

-मंगला आरती
-सुबह 10 बजे पुष्पांजलि

-सुबह 10 बजे भगवान की आरती और भजन गायन
-रात 11 बजे से श्रीगणेश नवग्रह आदि का पूजन
-भगवान का प्राकट््‌य रात 12 बजे
-भगवान का महाभिषेक रात 12.15 से 12.30 बजे तक
-12.40 से 12.50 मंगला आरती के दर्शन
-जन्म के दर्शन रात 1.30 बजे तक।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.