गुरु. अक्टूबर 17th, 2019

वास्तु दोष भी हो सकता है आपके बिमारी की वज़ह……… पढे क्या कहता वास्त शास्त्र

1 min read

कहते हैं कि जो लोग वास्तु के हिसाब से चलते हैं, उसकी गहराई को समझते हैं, वह अपने जीवन में आने वाली कई समस्याओं से ऐसे ही छुटकारा पा सकते हैं। क्योंकि संकट कैसा भी वास्तु शास्त्र उसका संकेत देता है। घर हो या ऑफिस कहीं भी अगर नकरात्मक ऊर्जा हो वहां वास्तु में बताए गए नियम काम करते हैं। वास्तु शास्त्र के हिसाब से हर परेशानी के लिए बुरी ऊर्जाएं जिम्मेदार होती हैं। बुरी ऊर्जा या जिसे हम निगेटिव एनर्जी कहते हैं, यही हमारे काम बिगाड़ती है।

आज हम आपको वास्तु शास्त्र के माध्यम से एक ऐसी चीज़ के बारे में बताएंगे, जो आए दिन लोगों में देखने मिल रही है और जिसका नाम सुनकर ही लोग घबरा जाते हैं। जी हां, हम बात कर रहे है कैंसर जैसी बीमारी के बारे में। जिसका अगर शुरूआत में ही इलाज कर लिया जाए तो ये ठीक भी हो जाती है, लेकिन अगर इसकी नजरअंदाज कर दिया जाए तो लोगों की मौत होना तय होता है।

ALSO READ अपने घर के वास्तु दोष को कुछ आसान उपाय अपना कर ठीक कर सकते हैं

वहीं वास्तु शास्त्र के अनुसार एक व्यक्ति जिस घर में निवास कर रहा है, वहां की दिशाएं ही उसे कैंसर देने के लिए जिम्मेदार होती हैं। दरअसल घर की दिशाओं का गलत प्रयोग ही उसके लिए कैंसर जैसी परेशानी लाता है। वास्तु द्वारा दिशाओं के कुल 8 ऐसे दोष बताए गए हैं, जो व्यक्ति को कैंसर जैसा जानलेवा रोग देने के लिए जिम्मेदार होता हैं। चलिए आगे जानते हैं, वास्तु के हिसाब से उन दिशाओं के बारे में, जो कैंसर का कारण बनती हैं।

वास्तु के हिसाब से घर की उत्तर-पूर्व दिशा गोलाकार हो या बंद हो तो वहां वास्तु दोष बनता है। इसकी वजह से घर में रहने वाले किसी भी सदस्य के किसी भी भाग में कैंसर हो सकता है, जिससे व्यक्ति के फेफड़े प्रभावित हो सकते हैं।

ALSO READ वास्तु के हिसाब से कैसा होना चाहिए आपका लिविंग रूम

अगर घर की उत्तर पूर्व दिशा बढ़ी हुई है लेकिन पश्चिम दिशा दबी हुई है, तो घर में रहने वाली किसी भी व्यक्ति को नसों और गर्दन में कैंसर हो जाने की सम्भावना होती है।

उत्तर पूर्व, पूर्व, उत्तर पश्चिम, ऊंचा होना तथा दक्षिण और दक्षिण-पश्चिम दिशा का नीचा होना ब्रेन कैंसर दे सकता है।

वास्तु के हिसाब से घर की उत्तर दिशा हमेशा सही होनी चाहिए, लेकिन अगर यही ठीक न हो तो कई सारे दोष उत्पन्न होते हैं। अगर घर की उत्तर पूर्व दिशा के साथ दक्षिण पूर्व दिशा में वास्तु दोष आ जाए, तो यह सीने में कैंसर बना सकता है।

ALSO READ अपने घर के वास्तु दोष को कुछ आसान उपाय अपना कर ठीक कर सकते हैं

उत्तर पूर्व दिशा दोषपूर्ण हो तो यह कैंसर बनाता है। इस दिशा के साथ अगर दक्षिण पश्चिम दिशा का कोई भाग या पूरी दक्षिण दिशा ही दोषपूर्ण हो, तो यह किडनी का कैंसर बनाता है।

उत्तर पूर्व दिशा के साथ अन्य भागों का दोषपूर्ण होना ब्लड कैंसर की संभावना देता है।

यह एक ऐसा दोष है, जिसके लिए गहराई से जांच करनी पड़ती है। कई बार घर के बीचो बीच गड्ढा होता है, लेकिन इसका पता घर वालों को नहीं चलता। यह घर का मुख्य स्थान होता है, जो यदि खराब या यहां पर गन्दा पानी जमा रहता हो, तो यह पेट का कैंसर दे सकता है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.