गुरु. अक्टूबर 17th, 2019

अब पार्षद चुनेंगे महापौर  अध्यादेश हुआ पास

अब पार्षद चुनेंगे महापौर अध्यादेश हुआ पास

भोपाल : मध्यप्रदेश में महापौर और नगर पालिका अध्यक्ष का चुनाव अप्रत्यक्ष प्रणाली से होगा। राज्यपाल लालजी टंडन ने आखिरकार अप्रत्यक्ष प्रणाली से चुनाव करवाये जाने के अध्यादेश को मंजूरी दे दी है, इस अध्यादेश को मंजूरी मिलने के बाद अब चुने गए पार्षदों में से कोई एक मेयर चुना जाएगा..हालांकि इस नई व्यवस्था का बीजेपी ने विरोध किया था। मगर सरकार प्रस्ताव को मंजूर करवाने में कामयाब रही, रविवार रात को सीएम कमलनाथ और राज्यपाल की मुलाकात के बाद से ही ये माना जा रहा था कि इस अध्यादेश को राज्यपाल मंजूरी दे सकते है। राज्यपाल के इस अध्यादेश को मंजूर किए जाने के बाद कांग्रेस के नेताओं ने राज्यपाल का आभार जताया तो बीजेपी ने एकबार फिर विरोध किया।

ऑल इंडिया मेयर कौंसिल और बीजेपी ने इसका विरोध किया था, दोनों ने राज्यपाल से मुलाकात कर अपना विरोध भी दर्ज करवाया था दलीलें दी थी कि नई व्यवस्था से हॉर्स ट्रेडिंग का खतरा बढ़ेगा। पार्षदों की खरीद फरोख्त की संभावनाएं बढ़ेंगी, मगर महाराष्ट्र, राजस्थान समेत कई राज्य है जहां अप्रत्यक्ष तौर पर पार्षद चुने जाते है। बीजेपी के इन आरोपों को लेकर कांग्रेस के राज्यसभा सांसद विवेक तनखा ने बीजेपी पर हमला किया, बंसल न्यूज से बातचीत के दौरान तनखा ने कहा कि बीजेपी के नेता ऐसे बयान देकर लोकतंत्र का अपमान कर रहे है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.