May 18, 2024

अन्याय के खिलाफ झुकेंगे नहीं….. बताये किस मामले में हुआ है अपराध दर्ज….. इनसे तो हुई थी पुछताछ 302 के अपराध में …..ओ पी चौधरी पर हुआ अपराध दर्ज, सही है

अन्याय के खिलाफ झुकेंगे नहीं….. बताये किस मामले में हुआ है अपराध दर्ज….. इनसे तो हुई थी पुछताछ 302 के अपराध में …..ओ पी चौधरी पर हुआ अपराध दर्ज, सही है

बिलासपुर : छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल दिल्ली से सीधे बिलासपुर पहुंचे। अपोलो में भर्ती राहुल साहू और उनके माता पिता से मिला। भूपेश बघेल इसके बाद सीधे लखीराम आडिटोरियम पहुंचकर नव संकल्प शिविर में शिरकत किया। इस दौरान उन्होने पत्रकारों से संवाद भी किया। आरोप लगाया कि भाजपा दबाव की राजनीति कर रही है। राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी पर जबरदस्ती ईडी के माध्यम से दबाव बनाया जा रहा है। लेकिन बताना चाहता हूं राहुल गांधी झुकने वाले नेताओं में से नहीं है। वह उभरकर सामने आएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि राहुल गांधी पर किसी प्रकार का अपराध दर्ज नहीं है। लेकिन गोधरा काण्ड मामले के समय नरेंद्र मोदी पर 302 का अपराध भी दर्ज हुआ था। और पूछताछ भी हुई थी।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल दिल्ली से सीधे बिलासपुर पहुंचे। अपोलो में भर्ती राहुल साहू के परिजनों से मुलाकात कर राहुल की पढ़ाई लिखाई और इलाज का जिम्मा लिया। उन्होने राहुल से संवाद किया। मुख्यमंत्री ने बताया कि राहुल बहुत साहसी है।
नरेंद्र मोदी से 302 के अपराध पर हुई थी पूछताछ

विपक्ष का आरोप है कि मुख्यमंत्री दिल्ली में प्रदर्शन कर राजनीति कर रहे हैं। ईडी पर दबाव बना रहे है। जबकि पूछताछ एक सामान्य प्रक्रिया है। इसमें प्रदर्शन और गिरफ्तारी की बात नही है। मुख्यमंत्री रहने के दौरान नरेन्द्र मोदी से भी पूछताछ हुई थी। इस सवाल के जवाब में सीएम ने कहा कि गोधरा काण्ड मामला 302 का था। उसमें आपके खिलाफ अपराध भी दर्ज हुआ था। लेकिन भाजपा बताए कि राहुल के खिलाफ कहां अपराध दर्ज हुआ है। मामले को ईडी ने एक बार खारिज भी किया है। कोर्ट ने क्लीन चिट भी दिया है। फिर से पूछताछ की जरूरत क्या है। ऐसा सिर्फ राहुल गांधी की आवाज को दबाने का प्रयास किया जा रहा है। लेकिन राहुल और कांग्रेस पार्टी झुकेगी नहीं। गरीबो की आवाज थी और रहेगी।गिरफ्तारी के सवाल पर बघेल ने कहा कि वहां धारा 144 लगा था। मैं अकेला खड़ा था। ना नियम तोड़ा..ना कानून..फिर भी गिरफ्तार किया गया। एआईसीसी कार्यालय को भी पुलिस ने छावनी बना दिया गया है। नेताओं को ही नहीं बल्कि पत्रकारों को भी परेशान किया जा रहा है।

समस्याओ से ध्यान भटका रही केन्द्र सरकार ,

पर आपके यहां भी पत्रकारों को परेशान किया जा रहा है उनके खिलाफ झूठे अपराध दर्ज किया जा रहा है गिरफ्तार कर जेल भेजा जा रहा है उस पर कोई जवाब नहीं दिया।

भूपेश बघेल ने बताया दरअसल केन्द्र सरकार बेरोजगरी से आर्थिक बदहाली और देश की अव्यवस्था से ध्यान भटकाना चाहती है। यही कारण है कि ईडी का इस्तेमाम किया जा रहा है। उन्होने कहा कि 16 जून को रायपुर में उनके निवास में सभी कांग्रेस नेताओं को बुलाया गया है।

यह बैठक क्या प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने बुलाया है इस पर कोई जवाब नहीं दिय

बैठक में रणनीति तैयार होगी। इसके बाद सभी नेता राज्यपाल को ज्ञापन देंगे।

जब कहा गया कि एक बार गिरफ्तारी के विरोध में प्रदेश अध्यक्ष के द्वारा ज्ञापन दिया जा चुका है उस पर भी कोई जवाब नहीं दिये

17 नवंबर को छत्तीसगढ़ बंद किया जायेगा

ओ पी चौधरी पर सही अपराध दर्ज

पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह ने ओपी चौधरी के खिलाफ वायरल विडीयो पर अपराध दर्ज किए जाने को मजाक बताया है। सवाल के जवाब में भूपेश बघेल ने कहा कि अजीब बात है। एक जिम्मेदार आदमी ऐसा कैसे कर सकता है। पुराना विडीयो वायरल कर क्या बताने चाहते थे ओपी चौधरी। उनके खिलाफ अपराध दर्ज उचित है। कार्यवाही होनी चाहिए।

नकारात्मक उपयोग बुल्डोजर चलने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि बुल्डोजर का उपयोग सकारात्मक होना चाहिए। देख ही रहे हो कि क्या हो रहा है। ऊर्जा का उपयोग सकारात्मक होता है। लेकिन हो नकारात्मक रहा है।

प्रदेश के संसाधनों को लूटा जा रहा है।

हसदेव अरण्य की स्थिति कुछ ऐसी ही है। सीएम ने बताया कि हमारे पास पर्याप्त भूगर्भीय संसाधन है। देश को उसकी जरूरत है। कोयला से बिजली बनता है। कोयला निकालने के लिए पेड़ भी कटेगा। मगर महाराजा साहब चाहेंगे तब

जो महाराजा चाहेंगे वही होगा

आपने डगाल काटने पर भी प्रतिबंध लगा दिया है। सीएम ने कहा कि महाराजा साहब को लगता है कि पेड़ काटना उचित नहीं है..। इसलिए उनके अनुमति के बिना एक भी पेड़ नही काटा जाएगा। महाराजा साहब उस क्षेत्र के विधायक हैं। हम तो ज्यादा उस क्षेत्र के बारे में जानते नहीं। इसलिए वह जो बोलेंगे वही सच माना जाएगा।

उभरकर सामने आएंगे एक अन्य सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने बताया कि यह छत्तीसगढ़ के राहुल साहू साहसी है। 105 घंटे जिन्दगी और मौत से जंग लडा है। पत्थर तोड़कर बाहर आया है। राहुल गाधी भी उभरकर सामने आएँगे। आज 11 घंटे की सुनवाई के बाद ईडी कार्यालय से सीधे एआईसीसी कार्यालय पहुंचे। लेकिन उनके चेहरे पर किसी प्रकार का शिकन नही था। वह फाइटर हैं। हम केन्द्र सरकार की तानाशाही रवैया के खिलाफ 17 को छत्तीसगढ़ प्रदेश बन्द करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.